राष्ट्र की आवाज

सैलून मालिक ने चाकू से युवक को जान से मारने का प्रयत्न, सैलून मालिक पर गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज

0

परमेश्वर सिंह / मुंबई कॉटनग्रीन कालाचौकी पोलीस स्टेशन अंतर्गत ११ मई की रात लगभग १०:३० बजे भाग्यश्री सैलून में बाल कटवाने के दौरान अम्बेवाड़ी चाल रहिवासी प्रदीप गुप्ता उर्फ विकास गुप्ता नामक युवक से सैलून कर्मचारी शिवा के बीच मामूली कहासुनी हो गई,लेकिन कुछ देर मामला वहाँ शांत हो चुका था। लेकिन सुबह भाग्यश्री सैलून के कर्मचारी शिवा ने इस कहासुनी के बारे में दुकान मालिक रामसिंह ठाकुर को अवगत कराते हुए प्रदीप गुप्ता उर्फ विकास गुप्ता को मारने के लिए उकसाने का काम किया। जिससे दुकान मालिक रामसिंह ठाकुर ख़फ़ा होकर १२ मई की सुबह ११ बजे प्रदीप गुप्ता उर्फ विकास गुप्ता को जान से मारने की योजना बनाकर रामसिंह ठाकुर अपने पुत्र रोहन रामसिंह ठाकुर के साथ प्रदीप गुप्ता उर्फ विकास गुप्ता के घर पर जाकर पहले उसे गाली गलौज देते हुए नीचे बुलाया और फिर उसके पेट में चाकू से कई बार वार करते हुए उनकी हत्या करने का प्रयास किया। इस वारदात में हमलावर आरोपियों ने प्रदीप गुप्ता उर्फ विकास गुप्ता एवं उनके छोटे भाई को लहूलुहान कर मौके से फरार हो गए।ज्ञात हो कि वारदात के समय घायल,पीड़ित व्यक्ति के परिवार घर पर ही मौजूद थे लेकिन इन हमलावरों के दहशत के आगे घरवाले टिक नहीं सके । प्रदीप गुप्ता उर्फ विकास गुप्ता एवं उनके छोटे भाई को गंभीर रूप से जख्मी हालत में पड़ोसियों की मदद से परेल स्थित के. ई .एम. हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है, जहां गंभीर रूप से घायल लहूलुहान हुए दोनों भाइयों में प्रदीप गुप्ता उर्फ विकास गुप्ता के पेट का ऑपरेशन कर पेट में कुल  36 टाके लगाएं गए है एवं उनकी हालत अभी भी नाज़ुक बनी हुई है। इस घटना की जानकारी प्राप्त होते ही मामले को गंभीरता से लेते हुए काला चौकी पोलीस स्टेशन के वरिष्ठ पोलीस निरीक्षक के आदेश पर सहायक पोलीस निरीक्षक सारंग चव्हाण ने गु. क्र.२८४/२०२२ भा. दं. वि. कलम ३०७,३२४,३२३,३४ के तहत मामला दर्ज कर  मौके से फरार दोनों आरोपी १)रामसिंह ठाकुर २)रोहन रामसिंह ठाकुर को गिरफ्तार कर लिया है। फ़िलहाल इस वारदात में पोलीस द्वारा गिरफ्तार किए गए दोनों आरोपियों को न्यायालय ने न्यायिक हिरासत में लेकर जेल भेज दिया है,और पोलीस इस मामले में आगे की छानबीन कर रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.